Bitcoin halving क्या है? इससे Bitcoin माइनर्स पर क्या असर होता है?
जाने इस रिपोर्ट मे-

Bitcoin halving माइनिंग से जुड़ी एक प्रक्रिया है जिसमें हर एक 4 साल में होती हैं।

बिटकॉइन माइनिंग करते समय जब एक नया ब्लॉक बिटकॉइन ब्लॉकचेन में जोड़ दिया जाता है तो उन्हें रिवॉर्ड के तौर पर

कुछ बिटकॉइन दिए जाते हैं जब बिटकॉइन की शुरुआत 2009 में हुई थी उस समय माइनर्स को 50 बिटकॉइन दिए जाते थे

उसके बाद पहला बिटकॉइन हाल्विंग इवेंट 2012 में होता है और माइनर्स को 25 बिटकॉइन मिलने लगा।

फिर उसके 4 साल बाद 2016 मे बिटकॉइन halving के बाद माइनर्स को 12.5 बिटकॉइन मिलने लगे।

फिर 4 साल बाद 20 मे बिटकॉइन halving के बाद माइनर्स को 6.5 बिटकॉइन मिलने लगे।

ऐसे ही क्रिप्टो से जुड़ी जानकारी के लिए नीचे दी गई लिंक पर जरूर क्लिक करें-

Click Here