Changpeng zhao कैसे बने एशिया के सबसे अमीर शख्स

ब्लूमबर्ग बिलियनेयर्स इंडेक्स  के आंकड़ों के अनुसार चांगपेंग झाओ, एशिया के सबसे अमीर व्यक्ति बन गए हैं उन्होंने फेसबुक के सीईओ मार्क जुकरबर्ग को पछाड़ा था वह Oracle के founder Larry Ellison से पीछे थे ताजा आंकड़ों के हिसाब से 16 जनवरी को टॉप बिलेनियर के लिस्ट में लगभग 96.5 billion के साथ 12वें स्थान पर बने हुए हैं।

Binance founder

Changpeng Zhao कौन है?


चांगपेंग झाओ को ‘सीजेड’ के नाम से भी जाना जाता है चांगपिंग जाओ एक चीनी कनाडाई कारोबार है और वह सबसे बड़े क्रिप्टो एक्सचेंज Binance के संस्थापक है क्रिप्टो करेंसी की दुनिया में पैसे का बढ़ना एक आम सी बात हो गए हैं कई क्रिप्टो पहले सस्ते हुआ करते थे अभी उनकी कीमतें बहुत ज्यादा बढ़ चुकी हैं भारत में भी युवाओं के द्वारा क्रिप्टो में रुचि बहुत अधिक हो दिखाई दे रही हैं इनमें महिलाएं भी शामिल हो रही है कई निवेशक अपना पैसा क्रिप्टो में निवेश करके अमीर हुए है तो कई एक्सचेंज के संस्थापक हाल ही में बिलेनियर लिस्ट में शामिल हुए हैं।
पिछले साल ही एथेरियम के संस्थापक Vitalik Buterin तथा Coinbase के संस्थापक Brian Armstrong पिछले साल वर्चुअल करेंसियों के मूल्य में वृद्धि से अरबपति (Billionaire) के लिस्ट में शामिल हुए थे इस लिस्ट में सबसे चर्चित और सबसे अमीर क्रिप्टो एक्सचेंज Binance के संस्थापक Changpeng Zhao इंसान हैं हालांकि जाओ का सफर आसान नहीं रहा है।


Changpeng Zhao कैसे बने एशिया के सबसे अमीर शख्स


2017 मे Binance एक्सचेंज की शुरुआत किया था झाओ कनाडा में एक अप्रवासी परिवार में पले-बढ़े और अपने परिवार के सहायता के लिए पहले मैकडॉनल्ड्स में काम करते थे। उन्होंने अपनी पढ़ाई मैकगिल विश्वविद्यालय में कंप्यूटर साइंस किया था उस के बाद टोक्यो स्टॉक एक्सचेंज और ब्लूमबर्ग के लिए ट्रेडिंग सॉफ्टवेयर पर काम किया

Changpeng Zhao की रुचि क्रिप्टो में कैसे हुई


Binance के डाटा के अनुसार Zhao को 2013 मे पोकर के एक खेल के दौरान Bitcoin के बारे में पता चला उसके बाद उसने अपने जीवन क्रिप्टो को समर्पित कर दिया और अपना पूरा फोकस क्रिप्टो पर लगाने का फैसला किया अन्य क्रिप्टो एक्सचेंजों की तरह, बायनेंस को हाल ही में दुनिया भर में काफी चुनौतियों का सामना करना पड़ा है, जिसमें UK और कनाडा जैसे देशों के प्रतिबंध शामिल हैं।

Changpeng zhao पर क्या इल्जाम है?

साथ ही झाओ पर इल्जाम भी हैं और उनकी की जांच की जा रही है। USA डिपार्टमेंट ऑफ जस्टिस एंड इंटरनल रेवेन्यू सर्विस इस बात की जांच कर रही है कि कहीं बायनेंस होल्डिंग्स लिमिटेड मनी लॉन्ड्रिंग और टैक्स चोरी का एक जरिया तो नहीं है।
नवंबर 2021 में एक पत्रिका न
के अनुसार पूर्व अधिकारियों का अनुमान है कि झाओ की कंपनी की वैल्यू 300 अरब डॉलर तक हो सकती है। जिससे झाओ एलोन मस्क से भी अधिक अमीर बन जाएंगे। एलन मस्क अभी 282 अरब डॉलर की संपत्ति के साथ दुनिया के सबसे अमीर शख्स है।

दान करेंगे दौलत Zhao

बायनेंस के एक प्रतिनिधि के अनुसार Changpeng Zhao अन्य उद्यमियों की तरह अपनी अधिकांश संपत्ति, करीब 99% संपत्ति को दान करने का इरादा रखते हैं।

Leave a Comment